एमपी: पटवारियों की भर्ती परीक्षा टलने के आसार !*

641

राज्य सरकार द्वारा प्रस्तावित हजारों पटवारियों की भर्ती परीक्षा टलने के आसार बन रहे हैं। करीब साढे 9 हजार पटवारियों की भर्ती परीक्षा छह महीने के लिए टल सकती है। राजस्व विभाग पटवारी भर्ती नियमों में संशोधन करने जा रहा है।

उधर पटवारियों की पात्रता परीक्षा के बाद उन्हें दी जाने वाली ट्रेनिंग कोर्स में भी बदलाव हो रहा है। ट्रेनिंग मॉड्यूल पुराना हो चुका है, इसमें नई टेक्नोलॉजी को भी जोड़ा जाएगा। साथ ही अब पटवारियों को स्टेट कैडर दिया जाएगा, ताकि प्रदेश में कहीं भी उनका तबादला हो सके। इन नियमों को बदलने के बाद भर्ती परीक्षा आयोजित होगी।
सूत्रों के मुताबिक पटवारियों को स्टेट कैडर देने के नियम का मसौदा तो तैयार है, लेकिन ट्रेनिंग मॉड्यूल बदलने में कुछ समय लग सकता है। इसके बाद विभाग प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) को भर्ती परीक्षा आयोजित करने के लिए लिखेगा। बोर्ड परीक्षा आयोजित करने के लिए तीन से चार महीने की मांग करता है।
विभाग के अधिकारियों के मुताबिक अभी नियम संशोधन में एक से डेढ़ महीने लग सकता है। भर्ती के बाद सरकार के पास सिर्फ दो हजार पटवारियों को ट्रेनिंग देने की व्यवस्था है।
इस कमी को दूर करने के लिए सरकार अब इंजीनियरिंग कॉलेज सालभर के लिए किराए पर ले कर ट्रेनिंग दे सकती है। उधर, माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी से संबंधित कम्प्यूटर सेन्टर संचालकों ने भी मुख्यमंत्री से मिलकर पटवारी परीक्षा में कम्प्यूटर डिप्लोमा मान्य करने की मांग की थी। कम्प्यूटर सेन्टर संचालकों की माने तो मुख्यमंत्री ने उनकी मांगों पर विचार करने का आश्वासन दिया है।