FB पर डीपी देखी तो आ गया लड़की पर दिल, फ्रेंड नहीं बनाया तो कर दिया ये ‘जुर्म’

808
फेसबुक पर आपको कई लोग फ्रेंड बनने के लिए रिक्वेस्ट भेजते होंगे. कुछ लोगों को आप अपने फ्रेंड लिस्ट में शामिल कर लेते है और कुछ की रिक्वेस्ट को आप एक्सेप्ट नहीं करते. ऐसा ही कुछ एक छात्रा ने भी किया, लेकिन उसे क्या पता था कि किसी अनजान को अपना फेसबुक फ्रेंड नहीं बनाना उसके लिए परेशानी का सबब बन जाएगा.

मामला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल का है. यहां सुभाष नगर में रहने वाली एक छात्रा ने साइबर पुलिस को फेसबुक पर अपना फर्जी प्रोफाइल होने की शिकायत दर्ज कराई थी. छात्रा ने बताया कि उसके नाम से बनी फर्जी प्रोफाइल में वही तस्वीरे शेयर की जा रही है, जो उसके ओरिजनल फेसबुक अकाउंट पर मौजूद हैं.

छात्रा ने बताया कि इस आईडी से उसे बार-बार फ्रेंड रिक्वेस्ट भी भेजी जा रही है. साथ ही फर्जी अकाउंट के जरिए मैसेज कर उसे और उसके परिवार को बदनाम किया जा रहा है.

साइबर पुलिस ने आईटी विशेषज्ञों की मदद से फर्जी अकाउंट की डिटेल खंगालना शुरू की तो शक की सुई मुरैना के इस्लामपुरा में रहने वाले शब्बीर खान पर जाकर टिकी. पुलिस की एक टीम ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया.


आरोपी ने बताया कि वह न तो कभी छात्रा से मिला और न कभी उसकी कोई पहचान रही. फेसबुक पर सर्च के दौरान उसे छात्रा तस्वीर पसंद आईं, जिसके बाद उसने उसे फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी थी. चूंकि, छात्रा उसे नहीं जानती थी, इस वजह से उसने रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट नहीं किया. आरोपी ने इसके बाद छात्रा को कई मैसेज भी भेजें, जिससे परेशान होकर छात्रा ने फेसबुक पर उसे ब्लॉक कर दिया.

-आरोपी को छात्रा की ‘ब्लॉक’ करने की बात इतनी नागवार गुजरी कि उसने ‘जुर्म करने का फैसला लिया.
-आरोपी ने छात्रा के ओरिजनल अकाउंट से उसकी तस्वीरें डाउनलोड कर उसी के नाम से एक फर्जी अकाउंट बना दिया.
-इस अकाउंट से छात्रा को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी, तो कई लोगों को मैसेज भी किए.
-आरोपी मुरैना जिले का ही रहने वाला है. आठवीं तक पढ़ा आरोपी बस मैकेनिक है.