मध्यप्रदेश युवक कांग्रेस की किसान स्वाभिमान यात्रा 26 को टीकमगढ़ से शुरू….

368

मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस द्वारा 26 अक्टूबर से 02 नवंबर 2017 तक किसान स्वाभिमान यात्रा आयोजित की जाएगी। यह यात्रा टीकमगढ़ से प्रारंभ होकर देवरिया, सागर, बीना, गंजबासौदा, सीहोर, शाजापुर,शुजालपुर, आगर, डग, गरोठ, शामगढ, सुवासरा, सीतामउ, नाहरगढ़, बुढ़ा होते हुए पिपलिया मंडी पहुचेंगी। करीब 35 विधानसभाओं की इस यात्रा में प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष कुणाल चौधरी उन सभी किसानोंके परिजनों से मुलाकात करेंगे जो मंदसौर के बही पार्श्वनाथ में हुए गोलिकांड में मारे गए थे । साथ ही इस यात्रा में वो किसान भी शामिल होंगे जो गोलियां लगने से घायल हुए थे।

यह यात्रा टीकमगढ़ से प्रारंभ हो रही है जहां किसानों के उपर युवा कांग्रेस के प्रदर्शन के दौरान अत्याचार किया गया था उनके कपड़े उतारकर पुलिस ने मारपीट की थी । जिसे लेकर युवा कांग्रेस आका्रेशित है और अब यह यात्रा निकालकर पूरे प्रदेश में मंदसौर और टीकमगढ़ मामले को लेकर किसानों को जागरुक कर किसानों के साथ हो रहे अन्याय के खिलाफ न्याय की मांग करेंगी ।
करीब 1000 किलोमीटर की इस बाईक रैली को लेकर प्रेस काफ्रेंस के दौरान प्रदेश युवा के अध्यक्ष कुणाल चौधरी ने कहा कि प्रदेश की सरकार जिस प्रकार से किसानों के साथ अन्याय कर रही है उसके खिलाफ हमारी यह लड़ाई है। यह यात्रा प्रदेश के किसानोंपर हो रहे अत्याचार के खिलाफ है अन्नदाताओं के पेट पर लात,न्याय मांगने पर लाठीचार्ज और फिर गोलियोंसे छलनी करने वाली सरकार अब भी खुद को किसान हितैशी बताकर जो ढिंढोरा पीट रही है इस झूठ के खिलाफ सच्चाई को उजागर करने के लिए हम प्रदेश की इस यात्रा पर निकल रहे है । आज प्रदेश मेंसिर्फ किसान नही,व्यापारी,कर्मचारी,आमजन समेत हर वर्ग परेशान है ।

आज देश और प्रदेश में भाजपा की सरकार है जो मिलकर इस देश और प्रदेश को लुटने में लगी हुई है । हम इस अत्याचार के खिलाफ यह आंदोलन प्रारंभ कर रहे है किसानों के साथ लगातार जो शोषण हो रहा है उसके खिलाफ हम यह यात्रा आयोजित कर रहे है क्यों मंदसौर और नीमच के किसानों के साथ गोलीकांड के बाद फिर बड़ा अन्याय हुआ है अफिम की नई नीति के माध्यम से कई किसानों कोइस वर्ष पट्टे नही मिल रहे है। जो एक बड़ा अन्याय है ।

भावातंर मूल्य में शिवराज सरकार के भावों का किसानों के प्रति अंतर है । हर बार की तरह म.प्र.शासन के भ्रष्ट अफसरों द्वारा सुनियोचित षडयंत्र किया गया है और यह भावांतर योजना लाई गई है इसके माध्यम से चंद लोगों को फायदा पहुंचाना सरकार का मुख्य उद्देश्य है । मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस इसका पुरजोर विरोध करती है। मध्यप्रदेश सरकार की यह एक आदत हो गई है कि बिना किसी तैयारी के योजना लागू करना जिसका खामियाजा आमजनता को भुगतना पड़ता है जिसका ताजा उदाहरण है भावांतर योजना है इसका दुष्परिणाम जनता को भुगतने पर बाध्य होगे । मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस सरकार से मांग करती है जब तक कि पुर्ण रुप से तैयार न हो जाएं वैसे ही किसान नोटबंदी से परेशान है। ग्रामीण में नगद की समस्यां है । फसलों के दाम आधे है उनको बढ़ाने के लिए सरकार ध्यान देंलेकिन सरकार दाम बढ़ाने पर ध्यान देने के बजाए इस प्रकार की योजना लाकर शिवराज सरकार किसानोंपर नई समस्यां में डाल रही है । सरकार की इस प्रकार की योजनाओं की कोई तैयारी जमीन पर नही है। जिसका खामियाजा किसानों को भुगतना पडेगा और वो परेशान होगे।

मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस किसानों के अधिकारों की लड़ाई लड़ते हुए सरकार को किसानों का उपज न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदने के लिए बाध्य करेगी और सरकार यह तय करें कि वह किसानों की उपज का एक एक दाना समर्थन मूल्य पर खरीदें। #KisaanSwabhimanYatra