पीएल पुनिया दिल्ली रवाना, अब कांग्रेस की जन अधिकार यात्रा सरगुजा संभाग में

703

 

कोरबा। कांग्रेस की अगली जनअधिकार यात्रा सरगुजा संभाग में होगी। कांग्रेस के छग प्रभारी पीएल पुनिया ने बताया कि कांग्रेस के समय नई-नई नीतियां लागू कर लोगों को उनका अधिकार दिया जाता था। जिसे भाजपा सरकार छिनती जा रही है। बस्तर की जनता इससे परेशान हो चुकी है। उन्होंने बताया कि हमने तीन दिवसीय बस्तर दौरे में सभी विधानसभा सीटों पर गए। बारिश होने के बाद भी लगातार लोग छाता लेकर जमा रहे, जिनके पास छाता नहीं था वे कुर्सियों का ओट लेकर सुन रहे थे। युवाओं में भी जोश था, जिसे देखकर लगा कि परिवर्तन की लहर आ चुकी है। इससे हमें भी प्रेरणा मिली है कि लोगों को जागरुक करने के लिए अब चुनाव तक पूरे प्रदेश में लगातार जनअधिकार यात्रा चलाई जाएगी।

मुख्यमंत्री की सभा में कलेक्टर और प्यून की भीड़ थी

चार दिन छग में बिताने के बाद कांग्रेस के छग प्रभारी पीएल पुनिया शनिवार दिल्ली रवाना हो गए। जाने से पहले एयरपोर्ट पर सवाल के जवाब में कहा कि मुख्यमंत्री की जो सभा थी उसमें भीड़ लाने के लिए कलेक्टर से लेकर प्यून तक लगाए गए थे। जबकि कांग्रेस की सभा में हमें सुनने लोग खुद भी आए थे। इसी से परेशान होकर राजनीति का स्तर गिराकर हमारी सभा को प्रस्तावित जगह पर अनुमति देने से इंकार करवा दिया गया। इसके पीछे वहां के स्कूल शिक्षा मंत्री केदार कश्यप ने प्रशासन पर दबाव बनाया। जबकि लेकिन वहां के आदिवासी युवा कीचड़ में खड़े होकर हमें सुन रहे थे। जिससे स्पष्ट है कि लोग सरकार की नीतियों से परेशान हैं और इसका फायदा हमें ही मिलेगा।

केदार कश्यप के साली पर भी एफआईआर दर्ज होनी चाहिए

पुनिया ने कहा कि केदार कश्यप ने राजनीति में नीचे गिरकर हमारी सभा को अनुमति नहीं देने के लिए प्रशासन पर दबाव बनाया है। उनके बारे में क्या चर्चा करें इन्होने तो पत्नी की जगह साली से एग्जाम दिलवाकर अपराध किया है और अपराध इनके ही इशारे पर किया गया है, तो षडयंत्र रचने की धारा के तहत इनके उपर भी अपराध दर्ज होना चाहिए। मैं ज्यादा गहराई में नहीं जाना चाहता, जनता देख रही है। आगामी चुनाव में सब हिसाब-किताब बराबर हो जाएगा।