एसडीएम के हस्तक्षेप के बाद रुक सका अध्यापको का गलत निर्धारण वाला बेतन………. (अध्यापको ने दिया था ज्ञापन)

516

अध्यापक संघ ने एसडीएम का माना आभार

शिवपुरी…करेरा ब्लॉक मे गलत वेतन निर्धारण एवम जिले से अनुमोदन कराये बिना ही अध्यापको द्वारा बार बार अनुरोध एवम जिले मे ज्ञापन देने के पश्चात भी अपनी हठधर्मिता के कारण वेतन के बिल ऑनलाइन करा दिये। जब अध्यापको को मालूम चला तो मजबूर होकर एसडीएम सी बी प्रसाद को जनसुनवाई मे आवेदन देकर माँग की गयी कि जब आदेश मे जिले से निर्धारण का स्पष्ट उल्लेख किया गया है तो बीईओ द्वारा हमारे हितों पर कुठाराघात किया जाकर अध्यापको का वेतन कम क्यो किया जा रहा है। जिलाध्यक्ष धर्मेन्द्र जैन अमोल के नेतृत्व मे ब्लॉक अध्यक्ष सुल्तान वेग , ब्रजेँद्र बैस , मुरारी लाल गुप्ता , अखिलेश गुप्ता , उपेंद्र श्रीवास्तव, पंकज गुप्ता , धर्मेंद्र कबीर, सुनील गुप्ता ,भानू भार्गव सहित दो दर्जन से अधिक साथियों सहित, एसडीएम को ज्ञापन देकर सही बेतन भुगतान की मांग की गई। जिस पर एसडीएम श्री प्रसाद ने त्वरित कार्यवाही कर करेरा बीईओ को निर्देशित किया की पहले वेतनमान जिले से अनुमोदन कराया जाये, उसके पश्चात ही भुगतान किया जावे , इसके बाद भी उनके द्वारा हठ धर्मिता रवैया अपनाते हुये शासकीय हाई स्कूल काली पहाडी मे बैठ कर अन्य सँकुलो के बिलो पर हस्ताक्षर किये गये। उसके पश्चात सुबह सूत्रों से मालूम चला कि उनके द्वारा पुनः सभी सँकुलो प्रभारियों को सूचित किया कि अनुमोदन होने तक पुराने बेतन का ही भुगतान किया जावे …सभी अध्यापक इस वजह से दो दिन बाद बेतन ले पाएंगे। …परंतु एक वार गलत निर्धारण हो जाता तो हम फ़िर से उसी दोराहै पर खड़े हो जाते। ,पूर्व मे भी करेरा ब्लॉक वाले अध्यापको को दस से पंद्रह हजार रुपये का नुकसान हो चुका है .।
परन्तु एसडीएम के हस्तक्षेप के बाद अध्यापको का बेतन का गलत निर्धारण होने से बच गया।
अध्यापक संघ करैरा ने एसडीएम सीबी प्रसाद का आभार माना है। उल्लेखनीय है कि गत दिवस जिला कलेक्टर तरुण राठी एवम् जिलापंचायत सीईओ श्रीमंती नीतू माथुर के करैरा प्रवास के दौरान जिलाध्यक्ष धर्मेन्द्र जैन सहित अन्य अध्यापको ने मुलाकात कर जिले भर में एक समान बेतन दिए जाने की मांग की थी।
जिस पर कलेक्टर के निर्देश पर जिलापंचायत सीईओ श्रीमंती माथुर ने जिला कोषालय अधिकारी की अध्यक्षता में कमेटी का गठन कर जिले भर में एक समान बेतन दिलाये जाने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को दिए।
कलेक्टर ने कहा कि अध्यापको का जिले भर में एक समान बेतन निर्धारण कर दिया जाय।
अध्यापक संघ के जिलाध्यक्ष धर्मेन्द्र जैन ने सभी अध्यापक बँधुओ को सूचित किया है कि गलत वेतनमान को लेकर चलने वाली ट्रेन आज पटरी से उतर गयी थी , मगर दो तीन दिन में पटरी पर आने की पूरी सम्भावना है । इस असुविधा के लिये खेद है … ।