TI लाइन अटैच, SP पर तलवार

556

भिंड के रौन थाने में पदस्थ हवलदार के सुसाइड केस में गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह ने जांच के आदेश दिए हैं। चंबल डीआईजी जांच की मॉनीटरिंग करेंगे। इधर टीआई सुरेंद्र सिंह गौर को एसपी ने लाइन अटैच कर दिया है। वहीं वीडियो और आॅडियो क्लिप वायरल होने के बाद एसपी पर भी तलवार लटक गई है। ये क्लिप डीजीपी से लेकर आईजी तक पहुंचाई गई है। इसमें मरने के पहले हवलदार ने खुद को टीआई से प्रताड़ित होना बताया है। इसके साथ ही एसपी पर भी सुनवाई न करने का आरोप लगाया था। रौन थाने में पदस्थ हवलदार रामकुमार शुक्ला का थाना परिसर में सफाई करने को लेकर टीआई से विवाद हुआ था। इस दौरान दोनो पक्षों में गहमा गहमी हो गई थी। इस मामले में हवलदार ने एसपी भिंड अनिल सिंह कुशवाह को मोबाइल से कॉल कर के परेशानी बताई थी। उसने साफ कहा था कि टीआई उन्हे बेइज्जत कर रहा है। जबकि उनकी एसपी भी सुनवाई नही कर रहे है। उसने साफ कहा था कि वह मर कर ही पुलिस लाइन पहुंचेगा। जबकि एसपी उसे अपने पास बात करने बुला रहे थे। जबकि हवलदार ने इसके बाद ही जहर खाकर जान दे दी। हवलदार ने मरने के पहले अपनी पीड़ा का वीडियो बनाया था। इसके साथ ही एसपी से बातचीत भी रिकॉर्ड कर ली थी। दोनों क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद आईजी से लेकर डीजीपी तक को भेजी गई। डीजीपी ने हवलदार की मौत पर शोक जताया है।*