बोटर लिस्ट से हटा पूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी का नाम

877

लखनऊः देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी अब नगर निगम चुनाव में वोट नहीं डाल पाएंगे. पिछले 10 साल से लखनऊ में दर्ज अपने पते पर नहीं रहने की वजह से अटल का नाम वोटर लिस्ट से हटा दिया गया है.

नगर निगम जोन-1 के जोनल अधिकारी अशोक कुमार सिंह ने गुरुवार को बताया कि वाजपेयी नगर निगम में दिए अपने पते के मकान में कई वर्षों से नहीं रह रहे हैं. जिसके चलते मतदाता पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान वाजपेयी का नाम हटा दिया गया है.

वोटर लिस्ट में जो पता दर्ज था वह इस समय किसान संघ का कार्यालय है. पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी ने आखिरी बार साल 2000 में नगर निगम चुनाव में वोट डाला था. आखिरी बार 2004 के लोकसभा चुनाव में भी उन्होंने यहां से वोट डाला था.

वोटर लिस्ट के मुताबिक, अटल का लखनऊ में ठिकाना बासमंडी स्थित मकान नंबर 92/98-1 था. उनका वोटर क्रमांक 1054 था. जोनल अफसर अशोक सिंह के मुताबिक वाजपेयी 10 साल से शहर में नहीं आए हैं.

गौरतलब है कि 2004 लोकसभा चुनाव के बाद से ही अटल सक्रिय राजनीति से संन्यास ले चुके हैं. वाजपेयी इस समय लुटियंस जोन स्थित 6-ए कृष्ण मेनन मार्ग पर रहते हैं. वाजपेयी का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता है. वह अब लोगों से भी ज्यादा नहीं मिलते हैं. हालांकि बीजेपी के वरिष्ठ नेता एल.के. आडवाणी, एम.एम. जोशी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह जैसे बड़े नेता अक्सर उनका हाल-चाल लेने के लिए उनके पास जाते हैं.