bhopal- वक्फ सम्पत्तियों का होगा सर्वे:ऑनलाईन रजिस्ट्रेशन होगा अनिवार्य ! अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री श्रीमती यादव की मुस्लिम समुदाय के धर्मगुरूओं से चर्चा

781
भोपाल। पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती ललिता यादव ने कहा है कि प्रदेश की वक्फिया सम्पत्तियों का सर्वे कराया जाएगा। सर्वे से वक्फ सम्पत्ति की सही जानकारी उपलब्ध होगी जिसे चिन्हांकन कर ऑनलाईन रिकार्ड किया जा सकेगा। श्रीमती यादव आज मुस्लिम समुदाय के धर्मगुरूओं से वक्फ संपत्तियों पर अतिक्रमण, इससे होने वाली आय तथा विचाराधीन मुकदमों के संबंध में चर्चा कर रही थीं। इस अवसर पर वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष श्री शौकत मोहम्मद खान, सीईओ श्री युनस खान तथा विभिन्न जिलों के शहर काजी उपस्थित थे।
श्रीमती यादव ने कहा कि जिलेवार वक्फ संपत्ति चिन्हित कर रजिस्ट्रेशन अनिवार्य रूप से कराएं। चिन्हित सम्पत्तियों में बोर्ड लगाया जाये जिसमें जमीन का रकबा, खसरा नम्बर और संबंधित वक्फ का नाम लिखा गया हो। उन्होंने कहा कि वक्फ बोर्ड की आय बढ़ाने के लिए दुकानों का किराया बाजार दर पर तथा आवासीय भवनों का किराया कलेक्टर द्वारा निर्धारित दर पर लिया जाये। साथ ही, किरायेदारों एवं प्रबंध समिति के मध्य किरायेदारी का अनुबंध भी किया जाए।
वक्फ बोर्ड के चेयरमेन श्री शफकत मोहम्मद खान ने जानकारी दी कि जल्द ही जबलपुर में वक्फ बोर्ड का जोनल कार्यालय खोला जाएगा। उन्होंने बताया कि वर्तमान में लगभग 1500 वक्फ की प्रबंध समितियाँ गठित है। शीघ्र ही न्यायालयीन निर्णय के पश्चात कमेटियों का गठन किया जायेगा।
बैठक में भोपाल के शहर काजी जनाब सैय्यद मुशताक अली नदवी, रायसेन के जनाब काजी जहीर साहब, भिण्ड के जनाब काजी हशमत अली, इंदौर के जनाब इशरत अली साहब, उज्जैन के शहर काजी जनाब काजी ख़लिक उर्ररहमान उपस्थित थे।