shivpuri- आयोजित शिविर में पाए गए 93 मरीजों के पैरो के टेढ़ेपन की सर्जरी उदयपुर में होगी 

658
शिवपुरी, / राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत क्लब फुट सर्जरी (पैरो का टेढ़ापन) के उपचार हेतु सामाजिक न्याय विभाग के सहयोग से एडिप योजना के अंतर्गत जिला शीघ्र हस्तक्षेप केन्द्र (डीईआईसी) जिला चिकित्सालय में जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नीतू माथुर की उपस्थिति में आज शिविर सम्पन्न हुआ।
शिविर में नारायण सेवा संस्थान उदयपुर के अनुभवी चिकित्सक सर्जन डाॅ.आर.के.मिश्रा के नेतृत्व में 135 बच्चों का परीक्षण कर ऐसे 93 मरीज पाए गए जिनकी सर्जरी नारायण सेवा संस्थान उदयपुर में सर्जरी की जाएगी। शिविर में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.एम.एस.सगर जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन डाॅ.गोविंद सिंह, डाॅ.त्रिवेदिया, नारायण सेवा संस्थान के चिकित्सक डाॅ.आर.के.मिश्रा, नारायण सेवा संस्थान से डाॅ.हरि प्रसाद लड्डा सहित चिकित्सकगण एवं मरीजों के परिजन उपस्थित थे।
जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नीतू माथुर ने कार्यक्रम के आयोजन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि मध्यप्रदेश शासन एवं नारायण सेवा संस्थान के सहयोग से एडिप योजना अंतर्गत इस शिविर का आयोजन किया गया है। इस शिविर में ऐसे बच्चों के पैरो के आॅपरेशन किए जाएगें। जिनके पैर अंदर एवं बाहर के तरफ टेढ़े है या ऐसे बच्चे जो अपने पैरो पर खड़े नहीं हो पाते है। उन्होंने शिविर आयोजन हेतु शिवपुरी को चयन किए जाने पर नारायण सेवा संस्थान को साधूवाद देते हुए कहा कि भविष्य में इस प्रकार के शिविर में संस्थान द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में भी आयोजित किए जाए। जिससे ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी लाभांवित हो सके। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरबीएस) के नोडल अधिकारी डाॅ.संजय ऋषिश्वर ने बताया कि आज आयोजित हुए शिविर में जिले के विभिन्न हिस्सों से आए चिन्हित 135 बच्चों में से 93 मरीज ऐसे पाए गए जिनका निःशुल्क आॅपरेशन नारायण सेवा संस्थान उदयपुर में अनुभवी चिकित्सकों के दल द्वारा किया जाएगा।
कार्यक्रम के अंत में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.सगर ने बताया कि शिविर में परीक्षण हेतु आने वाले बच्चो का आरबीएस के मोबाइल हेल्थ टीम द्वारा ग्रामीणों क्षेत्रों में आंगनवाड़ी केन्द्रों एवं स्कूलों का भ्रमण कर चिन्हांकन किया गया था। जिनका परीक्षण आज नारायण सेवा संस्थान के चिकित्सकों द्वारा किया गया। कार्यक्रम में नारायण सेवा संस्थान द्वारा अतिथियों को राजस्थानी पगड़ी बांधकर एवं नारायण सेवा संस्थान का गमछा देकर सम्मान किया।