सुप्रीम कोर्ट ने whatsaap और facebook पर दिखाया कड़ा रुख, जवाब दाखिल करने का दिया 4 हफ्ते का समय

587

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने वाटसाॅप और फेसबुक के प्रति कड़ा रुख दिखाया है. यूजर्स की निजी जानकारी और डेटा किसी थर्ड पार्टी तक ना जाए. इस बात को ध्यान में रखते हुए whatsapp को 4 हफ्ते के अंदर विस्तृत हलफनामा देने के लिए कहा है . व्हाट्सऐप ने सुप्रीम कोर्ट में अंडर टेकिंग दी कि वो पैरेंट कंपनी फेसबुक के साथ सिर्फ फोन नंबर, मोबाइल डिवाइज का टाइप और रजिस्ट्रेशन और लास्ट सीन ही शेयर करेगा.
सुप्रीम कोर्ट ये सुनिश्चित करना चाहती है कि फेसबुक और व्हाट्सऐप किसी भी यूजर का डेटा किसी अन्य थर्ड पार्टी तक न पहुंचाए. इस वजह से कोर्ट ने व्हाट्ऐप को ये हलफनाम पेश करने को कहा है. अगली सुनवाई 28 नवंबर को तय की गई है.
साथ ही आपको बता दें फेसबुक के इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप अब बिजनेस टूल की तरफ ध्यान दे रहा है. इससे पहले तक बिजनेस से जुड़ी व्हाट्सऐप सर्विसों की स्क्रीनशॉट और रिपोर्ट्स आ रही थीं. लेकिन अब कंपनी ने आधिकारिक तौर पर इसका ऐलान कर दिया है. कंपनी ने अपने ब्लॉग पोस्ट में कहा है कि व्हाट्सऐप नए फीचर की टेस्टिंग करेगा. रिपोर्ट्स के मुताबिक व्हाट्सऐप इस टूल के जरिए अब पैसा कमाना चाहता है. क्योंकि कुछ समय के लिए व्हाट्सऐप ने यूजर्स से पैसा लेना शुरू किया था. लेकिन बाद में इसे बंद कर दिया गया. व्हाट्सऐप अपने प्लेटफॉर्म पर फिलहाल विज्ञापन नहीं दिखाए जाते हैं. इसलिए कंपनी अब बिजनेस टूल के माध्यम से कमाई करने की तैयारी में दिख रही है……..