bhopal-अपने शहर में अपनत्व की अनुभूति करें तभी उसकी विशेषता पर सिर गर्व से ऊंचा होगा : चौहान

832

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री नंदकुमारसिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश के 378 शहरों में नागरिकोचित सुविधाओं के विकास पर अगले तीन वर्ष में 85 हजार करोड़ रूपए खर्च करने का निर्णय शहरों के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने प्रदेश में स्वच्छता अभियान कार्यशाला में बड़ी पते की बात कहा कि नगरीय विकास तभी होगा, जब हम अपने क्षेत्र से तादात्म्य स्थापित करेंगे और स्मार्ट शहर की सुविधाओं से संपन्न होने पर ही शहर प्रदेश की अर्थव्यवस्था के इंजन साबित होंगे।

उन्होंने कहा कि अपने नगर को विकास के चरम पर तभी पहुंचा सकेंगे। स्मार्ट तभी बना पाने में सफल होंगे जब हमारा शहर के प्रति अपनत्व का भाव होगा। अपनत्व होगा तो हम अपने शहर की विशेषता पर गर्व कर सकेंगे। आने वाले दिनों में शहरों में पर्यावरण संरक्षण को मूत्र्त रूप देना होगा,तभी आने वाली पीढ़ी को हम सुरक्षित भविष्य छोड़ सकेंगे। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान ने प्रधानमंत्री के जन्मदिन 17 सितंबर को सेवा दिवस के रूप में मनाने का निश्चय किया है। सेवा दिवस पर हमारी क्षमता कसौटी पर होगी। कोई ऐसा नवाचार करें कि 17 सितंबर यादगार बन जाए।

श्री चौहान ने कहा कि स्वच्छता अभियान को जीवन में संस्कार के रूप में अंगीकार करे। शहर स्मार्ट होगा तो पानी, बिजली, आवास, स्वच्छता के साथ ही हर व्यक्ति को रोजगार के अवसर भी सुनिश्चित होगें। यदि कोई फेरी लगाकर आजीविका कमाता है तो उसे स्थान मिलना चाहिए। इससे हमारे और जनता के बीच विश्वास का सेतु बनेगा। ऐसा करके हम परस्पर स्पर्धा में अग्रसर होंगे और मध्यप्रदेश के शहरों की देश में पहचान बनेगी। हमें अपने शहर और प्रदेश पर गौरव का भान होगा। देश भी तभी महाशक्ति मार्ग पर आगे बढ़ेगा।