अजब -गजब ! 120 पत्नियां और 203 बच्चे, कहा था जब तक जिंदा हूं शादी करता रहूंगा

1292

बीते दिनों ही सुप्रीम कोर्ट द्वारा ट्रिपल तलाक को असंवैधानिक करार दिया गया। इसके बाद दुनिया भर के इस्लामिक नियमों ने लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा तो वही अब दूसरी ओर अब सोशल मीडिया में एक शख्स माचो मैन के नाम से सुर्खियां बटोर रहा है।

ये कहानी है मुस्लिम नाइजीरियाई व्यक्ति मोहम्मद बेलो अबू-बकर की। 93 वर्ष की आयु में इस दुनिया को छोड़ने से पहले उनकी 120 पत्नियों से 203 बच्चे थे।

जी हां, चौंक गए न लेकिन डेक्कन क्रॉनिकल की रिपोर्ट की माने तो इस आदमी की पत्नियों के मुताबिक, उनकी शादी तब हुई जब वो अपनी बीमारी के इलाज के लिए अबू-बकर से परामर्श के लिए मिला करते थे। अबू-बकर ने तो पहले सभी का इलाज किया और फिर बाद में उनसे शादी कर ली।

120 पत्नियों और 203 बच्चों वाले अबू-बकर का ये मामला जैसे ही प्रकाश में आया उनके खिलाफ फतवा भी जारी हुआ था क्योंकि इस्लामी कानून के अनुसार, एक बहुविवाह के मामले में एक आदमी की अधिकतम चार पत्नियां हो सकती हैं। उनसे शादी करने वाली पत्नियों में से एक ने यह खुलासा किया “मैंने कहा था कि मैं एक बूढ़े आदमी से शादी नहीं कर सकती, लेकिन फिर अबू ने इसे अल्लाह का सीधा आदेश बताया जिसके बाद मजबूरन मुझे शादी करनी पड़ी”।

मोहम्मद बेलो अबू-बकर ने 120 में से अपनी 10 पत्नियों को तलाक दे दिया था। जब उनसे ये पूछा गया था कि वह कितनी बार शादी करेंगे, तो उनका जवाब था कि जब तक वह जिंदा है, तब तक वह शादी करना जारी रखेंगे।

अपने आप में अजीबोगरीब इस मामले का ध्यान अंतरराष्ट्रीय मीडिया में तब गया जब वो 86 पत्नियों के पति थे। पत्रकारों को साक्षात्कार देते हुए दावा किया कि उसने ऐसा किया था क्योंकि ‘भगवान ने मुझे ऐसा करने को कहा।’ अंत में, मोहम्मद बेल्लो अबू-बकर मृत्यु के बाद अपने 203 बच्चों और 120 पत्नियों को छोड़कर शांति में चले गए।