मुम्बई मैं भारी बारिश का कहर, याद आयी 12 साल पुरानी आफत

386

मुंबई में सुबह से लगातार हो रही बारिश ने मुंबईकरों की मुसीबत बढ़ा दी है. भारी बारिश की वजह से यहां का आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल पर भी इसका काफी असर पड़ा है. घर से ऑफिस के लिए निकले लोग फंसे हुए हैं. सोमवार रात से हो रही भारी बारिश की वजह से मुंबई और इससे सटे ठाणे के कई इलाकों में जलभराव हो गया है. मौसम विभाग ने आगे भी भारी बारिश जारी रहने की चेतावनी दी है.

मुंबई के प्रसिद्ध KEM अस्पताल में घुसा पानी

 

मुंबई में भारी बारिश ने एकबार फिर बीएमसी के सारे इंतजामों की पोल खोल दी है. मुंबई और ठाणे के कई इलाकों में पानी भर जाने से लोग फंसे हुए हैं. भारी बारिश की वजह से जोगेश्वरी, विक्रोली, लोअर परेल, दादर, अंधेरी ईस्ट और हिंदमाता समेत कई इलाके सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं.

इसे भी पढ़े :- ‘आफत की बारिश’ से थम गई मुंबई, सड़कें बनीं तालाब, हॉस्पिटल में घुसा पानी

मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेन पर भी भारी बारिश का काफी असर पड़ा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 3 लोकल ट्रेनें प्रभावित हुई हैं. कई जगह रेलवे ट्रैक पर पानी भर गया है. कई ट्रेनें आधे से एक घंटे की देरी से चल रही हैं.

12 साल पहले हुई थी आफत की बारिश

सोमवार रात से लगातार हो रही इस भारी बारिश ने 26 जुलाई, 2005 की याद दिला दी है. करीब 12 साल पहले हुई इस आफत की बारिश ने घरों के अंदर रह रहे लोगों के लिए भी मुसीबते खड़ी कर दी थी. ठाणे और मुंबई में कई घरों में पानी भर गया था. इस दौरान कई लोगों की जाने भी गई थी और मुंबई व ठाणे शहर को काफी नुकसान उठाना पड़ा था. भारी बारिश ने घरों के सामान को भी बहा दिया था. इसकी वजह से लोगों को काफी नुकसान झेलना पड़ा था. गाड़ियां रेंग-रेंग कर चलने लगी थीं. कॉलेज गए स्टूडेंट्स और ऑफिस के लिए निकले लोगों को कई किलोमीटर पैदल चलना पड़ा था.

क्या पड़ेगा असर

अगले 24 घंटों में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है. यातायात पर असर पड़ेगा. सड़कों और रेल ट्रकों पर पानी भरने की वजह से सड़क-रेल यातायात ठप हो सकता है. मौसम खराब होने की वजह से उड़ानों पर असर पड़ा है. बाहर से आने वाली सप्लाई थम जाएगी. मुंबई में दूध और सब्जी जैसी डेली यूज के चीजों की सप्लाई पर असर पड़ सकता है.