Live भारत- श्रीलंका, दूसरा वनडे , धोनी-भुवनेश्वर की साझेदारी की बदौलत भारत ने तीन विकेट से जीता रोमांचक मुकाबला

829
पल्लेकेल.टीम इंडिया ने सीरीज के दूसरे वनडे में श्रीलंका को 3 विकेट से हरा दिया। इस रोमांचक मैच में भारत को जीत के लिए 231 रन (D/L मैथड) का टारगेट मिला था। जिसका पीछा करते हुए भारत ने एक वक्त पर अपने 7 विकेट 131 रन पर गंवा दिए थे। हालांकि इसके बाद धोनी और भुवनेश्वर ने 100* रन जोड़कर टीम को जीत दिला दी। इतना रोमांचक रहा मैच…
– मैच में टॉस हारकर पहले बैटिंग करते हुए श्रीलंका ने 50 ओवरों में 8 विकेट पर 236 रन बनाए थे। लेकिन इसके बाद हुई जोरदार बारिश के बाद भारत को 47 ओवरों में 231 रन (DLS) का नया टारगेट दिया गया।
– भारत की ओर से जसप्रीत बुमराह ने 4 विकेट तो युजवेंद्र चहल ने 2 और पंड्या-पटेल ने 1-1 विकेट लिया।
– टारगेट का पीछा करने उतरी टीम इंडिया को रोहित और धवन ने शानदार शुरुआत दी। दोनों ने पहले विकेट के लिए 109 रन जोड़े।
22 रन के अंदर गिर गए 7 विकेट
– मैच के दौरान 15.2 ओवर में भारत का स्कोर बिना विकेट खोए 109 रन था, और टीम काफी मजबूत स्थिति में लग रही थी।
– 15.3 ओवर में रोहित शर्मा के आउट होते ही भारत की इनिंग ऐसी लड़खड़ाई कि अगले 22 रन के अंदर 7 विकेट गिर गए।
– इस दौरान टीम का स्कोर 109/0 रन से 22वें ओवर में 131/7 रन तक पहुंच गया।
– श्रीलंका की ओर से करियर का चौथा मैच खेल रहे धनंजय ने जबरदस्त बॉलिंग करते हुए 54 रन देकर 6 विकेट लिए। इनमें से शुरुआती 5 विकेट उन्होंने 13 बॉल के अंदर झटके।
धोनी-भुवनेश्वर ने पलट दिया मैच
– भारत को सातवां झटका अक्षर पटेल के रूप में लगा। इसके बाद भुवनेश्वर कुमार बैटिंग करने आए। तब भारत का स्कोर 131/7 रन था और क्रीज पर धोनी मौजूद थे।
– इस नाजुक स्थिति में भुवनेश्वर और धोनी ना केवल टिककर बैटिंग की, बल्कि तेजी से रन भी बनाए। दोनों ने मिलकर 135 बॉल पर 100* रन की पार्टनरशिप करते हुए टीम को जीत दिला दी।
– मैच में भुवनेश्वर कुमार ने वनडे करियर की पहली फिफ्टी लगाते हुए 80 बॉल पर 53* रन बनाए। वहीं धोनी ने 68 बॉल पर 45* रन की इनिंग खेली।
– भुवनेश्वर ने करियर के 69वें मैच की 33वीं इनिंग में ये फिफ्टी लगाई। बैटिंग के दौरान उन्होंने 4 चौके और 1 सिक्स भी लगाया।
ऐसे गिरे भारत के विकेट
– टारगेट का पीछा करने उतरी टीम इंडिया को रोहित और धवन ने शानदार शुरुआत दी। दोनों ने पहले विकेट के लिए 109 रन जोड़े।
– एक वक्त पर 15.2 ओवर में भारत का स्कोर बिना विकेट खोए 109 रन था, लेकिन इसके बाद 10 रन के अंदर 5 विकेट गिर गए।
– भारत को पहला झटका 15.3 ओवर में लगा, जब अकिला धनंजय ने रोहित शर्मा (54) को lbw कर दिया। इस वक्त टीम का स्कोर 109 रन था।
– एक ओवर बाद ही शिखर धवन (49) भी आउट हो गए। 16.3 ओवर में सिरिवर्धना की बॉल पर उन्हें एंजेलो मैथ्यूज ने कैच कर लिया।
– 18वें ओवर में तीन विकेट गिरे। 17.1 ओवर में 114 के स्कोर पर केदार जाधव (1) को अकिला धनंजय ने बोल्ड कर दिया।
– इस ओवर की तीसरी बॉल यानी 17.3 ओवर में कप्तान विराट कोहली (4) को भी धनंजय ने बोल्ड कर दिया। इस वक्त स्कोर 118 रन था।
– 17.5 ओवर में 119 के स्कोर पर लोकेश राहुल (4) भी चलते बने। उन्हें भी धनंजय ने बोल्ड कर दिया।
– धनंजय का अगला शिकार हार्दिक पंड्या (0) बने। जिन्हें 19.3 ओवर में डिकवेला ने स्टम्पिंग कर दिया। इस वक्त स्कोर 121 रन था।
– सातवां विकेट अक्षर पटेल (6) का रहा। जिन्हें 21.5 ओवर में धनंजय ने lbw कर दिया। इसके बाद भारत का कोई विकेट नहीं गिरा।
रोहित ने लगाई फिफ्टी
– मैच में भारत की ओर से रोहित शर्मा ने जबरदस्त बैटिंग करते हुए फिफ्टी लगाई। वे 45 बॉल पर 54 रन बनाकर आउट हुए। ये उनके वनडे करियर की 32वीं फिफ्टी रही।
– उन्होंने अपने 50 रन 43 बॉल पर पूरे किए थे। अपनी इनिंग के दौरान उन्होंने 5 चौके और 3 सिक्स भी लगाए।
ऐसी रही थी श्रीलंका की इनिंग
– श्रीलंका की ओर से सिरिवर्धना ने सबसे ज्यादा 58 रन तो कपुगेदरा ने 40 रन की इनिंग खेली।
– वहीं भारत की ओर से जसप्रीत बुमराह ने शानदार बॉलिंग करते हुए सबसे ज्यादा 4/43 विकेट लिए।
– भारत की इनिंग शुरू होने से पहले हुई बारिश के बाद अब मैच को 47 ओवर का कर दिया गया।
ऐसे गिरे श्रीलंका के विकेट
– टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी श्रीलंका को डिकवेला और गुणातिलके ने ठीकठाक शुरुआत दी। दोनों ने पहले विकेट के लिए 46 बॉल पर 41 रन जोड़े।
– मेजबान टीम को पहला झटका 7.4 ओवर में लगा, जब जसप्रीत बुमराह की बॉल पर निरोशन डिकवेला (31) को शिखर धवन ने कैच कर लिया।
– दूसरा विकेट 14.1 ओवर में गिरा, जब चहल की बॉल पर गुणातिलके (19) को धोनी ने स्टम्पिंग कर दिया। इस वक्त श्रीलंका का स्कोर 70 रन था।
– अगले ही ओवर में तीसरा झटका भी लग गया। जब 15.6 ओवर में हार्दिक पंड्या की बॉल पर उपुल थरंगा (9) विराट कोहली को कैच दे बैठे। इस वक्त स्कोर 81 रन था।
– चौथा विकेट 99 के स्कोर पर गिरा, जब 23.3 ओवर में कुसल मेंडिस (19) को युजवेंद्र चहल ने lbw कर लिया।
– 28.3 ओवर में अक्षर पटेल ने एंजेलो मैथ्यूज (20) को lbw करके पांचवां विकेट गिराया। इस वक्त टीम का स्कोर 121 रन था।
– इसके बाद छठा विकेट 212 के स्कोर पर मिलिंडा सिरिवर्धना (58) का रहा। जो 44.6 ओवर में बुमराह की बॉल पर रोहित शर्मा को कैच दे बैठे।
– सातवां विकेट कपुगेदरा (40) का रहा, जिन्हें 46.6 ओवर में बुमराह ने बोल्ड कर दिया।
– अकिला धनंजय 9 रन बनाकर बुमराह की बॉल पर अक्षर पटेल को कैच दे बैठे। वे आउट होने वाले आठवें बैट्समैन थे। इसके बाद कोई विकेट नहीं गिरा।
– भारत की ओर से जसप्रीत बुमराह ने 10 ओवर में 43 रन देकर 4 विकेट लिए। वहीं हार्दिक पंड्या ने इतने ही रन देकर 2 विकेट लिए।
– युजवेंद्र चहल और अक्षर पटेल को 1-1 विकेट मिला।
सिरिवर्धना की फिफ्टी, छठे विकेट के लिए जोड़े 91 रन
– मैच में श्रीलंका की ओर से सिरिवर्धना ने शानदार बैटिंग करते हुए फिफ्टी लगाई। वे 58 बॉल पर 58 रन बनाकर आउट हुए।
– आउट होने से पहले उन्होंने चमारा कपुगेदरा के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 91 रन की पार्टनरशिप की।
– अपनी इनिंग में सिरिवर्धना ने सिर्फ दो चौके और 1 सिक्स लगाया। ये उनके वनडे करियर की तीसरी फिफ्टी रही।
– एक वक्त पर श्रीलंका के पांच विकेट 121 रन पर गिर गए थे, और लग रहा था वो 200 रन भी मुश्किल से बना पाएगी। लेकिन सिरिवर्धना और कपुगेदरा ने शानदार पार्टनरशिप करके टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचा दिया।
– कपुगेदरा 61 बॉल पर 40 रन बनाकर आउट हुए। बुमराह ने इन दोनों को पवेलियन भेजकर श्रीलंका के बढ़ते स्कोर पर ब्रेक लगा दिया। बुमराह ने 45वें ओवर में सिरिवर्धना को और 47वें ओवर में कपूगेदरा को आउट किया।
धोनी ने की वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी
– इस मैच में गुणातिलके को स्टम्पिंग करके भारतीय विकेटकीपर धोनी ने वनडे हिस्ट्री में सबसे ज्यादा स्टम्पिंग करने के श्रीलंकाई विकेटकीपर कुमार संगाकारा (99) के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। ये धोनी के करियर की 99वीं स्टम्पिंग थी।
– इससे पहले धोनी 98 स्टम्पिंग के साथ दुनिया में दूसरे नंबर पर थे। संगाकारा ने अपने करियर में 404 मैचों में 99 स्टम्पिंग की थी। वहीं धोनी सिर्फ 298 मैचों में 99 स्टम्पिंग कर ली।