video-भैया पहचाना, मैं रानी, मेरे बच्चे बहुत प्यारे हैं उन्हें अनाथ होने से बचा लो; भाई ने सोशल मीडिया पर अभियान चलाकर जुटाए 5 लाख रुपए……

1549

youtube चेनल की ”navya time news” द्वारा चलाई गयी video स्टोरी …..देखिये 


देश के प्रतिष्ठित अखबार ”देनिक भास्कर” में ”ऑल एडिशन” प्रकाशित खबर —

भैया पहचाना, मैं रानी, मेरे बच्चे बहुत प्यारे हैं उन्हें

अनाथ होने से बचा लो; भाई ने सोशल मीडिया पर

अभियान चलाकर जुटाए 5 लाख रुपए…….

दीपेंद्र सिंह चौहान | शिवपुरी

रक्षा सूत्र किसे कहते हैं, इसकी मिसाल शिवपुरी के एक भाई ने पेश की है, जिन्होंने अपनी मुंहबोली बहन की जान बचाने के लिए इस समय सोशल मीडिया पर अभियान छेड़ रखा है। मामला अहमदाबाद में भर्ती एक महिला रानी प|ी ओपी भार्गव निवासी पुरानी शिवपुरी (उम्र 36 साल) का है। इस समय रानी की दोनों किडनी खराब हैं, और वो डायलिसिस पर अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में 24 जनवरी से भर्ती है। रानी की हर दूसरे दिन यानी हफ्ते में 3 दिन डायलिसिस हो रही है।

पति को भेजा 1 हजार किमी दूर धर्म भाई के घर –

24 अप्रैल की दोपहर रानी ने अपने पति ओपी भार्गव को अहमदाबाद से शिवपुरी भेजा। बेहद अस्त-व्यस्त हालत में रानी के पति शिवपुरी में ब्रजेश तोमर के घर पहुंचे और उन्होंने रानी का सारा हाल बताया। रानी को अचानक से इस हाल में सुनने के बाद पहले ब्रजेश चौंके, लेकिन इसके बाद ब्रजेश ने रानी के पति को हिम्मत देते हुए कहा कि पैसे की वजह से मेरी बहन की जान नहीं जाएगी। इसी आश्वासन को लेकर ओपी तो चले गए, लेकिन ब्रजेश तोमर  इस चिंता में डूब गए कि कैसे अपनी इस बहन को बचाऊं।

एक बहन के लिए ”जीवनदान यज्ञ” 

ब्रजेश सिंह तोमर  ने रानी को फोन लगाकर उसका हाल-चाल पूछा, फोन पर ब्रजेश की आवाज सुनते ही रानी ने कहा भईया, मेरे बच्चे बहुत छोटे और मासूम हैं वो अनाथ हो जाएंगे,उनकी खातिर मुझे बचा लो। अपनों ने साथ छोड़ दिया इसलिए आपकी याद आई। इस पर ब्रजेश ने कहा- तू चिंता मत कर मैं हूं ना। ब्रजेश ने 27 अप्रैल को फेस बुक वॉल पर लिखा (एक आस मदद की, आओ मिलकरी बचा लें, उन मासूमों के सिर पर उनकी मां की छत्र छाया, एक बहन के लिए जीवनदान यज्ञ) इन शब्दों के बाद उसके दो बच्चों 12 साल के राही और 6 साल के यश की एक फोटो भी शेयर की।

3 दिन में जुटाए पांच लाख साढ़े तीन लाख रुपए भेजे –

रानी को इलाज के लिए ब्रजेश तोमर ने जैसे ही सोशल मीडिया के माध्यम से अभियान शुरू किया। देखते ही देखते कई लोग जुड़ते चले गए। खास बात ये है कि इन मदद करने वालों में कोई भी बड़ी संस्था या बड़ा समाजसेवी शमिल नहीं है। इस अभियान में अब तक 150 लोग जुड़ चुके हैं। आज ये रानी इन सभी लोगों की बहन बन चुकी है। अब तक साढ़े तीन लाख रुपए भेजे जा चुके हैं, बाकी के पैसे कुछ दिनों में मिल जाएंगे। फिलहाल जितने पैसों की जरूरत थी, उतने पैसे मिल चुके हैं। अब प्रशासनिक प्रयासों से और पैसे मिलने वाले हैं।

20 साल पहले बांधी थी राखी –

एक लोकल केबल टीवी के दफ्तर में काम करते समय रानी ने ब्रजेश सिंह तोमर को राखी बांधी थी, इस पर ब्रजेश ने ये वादा किया था कि कभी भी जिंदगी में आवाज देना, मैं खड़ा मिलूंगा। नियति ने भी वो वादा निभाने का मौका ब्रजेश तोमर  को दिया तो वे पीछे नहीं हटे। इस पूरे मामले में खास बात ये है कि 20 सालों में इन दोनों के बीच ज्यादा बातचीत नहीं हुई, लेकिन जब खून के रिश्तों ने साथ छोड़ दिया तो एक सूत के धागे ने अपना फर्ज निभाया।

भास्कर तत्काल

आज मेरी सांसें उन्हीं की वजह से चल रही हैं… 

दैनिक भास्कर ने रानी से अहमदाबाद सिविल अस्पातल में जब इस मोबाइल नंबर 9827733407 पर बात की तो रानी ने भास्कर से कहा कि जब अपनों ने साथ छोड़ दिया तो मुझे ब्रजेश भैया की याद आई। उन्होंने वह किया जो अपने भी नहीं करते। आज मेरी सासें उन्हीं की वजह से चल रही हैं। मेरे बच्चों के सिर पर मां का साया उन्हीं की देन है। मेरी से ईश्वर से यही कामना है कि हर जन्म में मुझे ब्रजेश जैसा भाई मिले।

अभी ये है हालत –

-रानी का वजन 36 किलो रह गया था। लेकिन अब 42 किलो हो गया है।

 -बीपी 60 था जो अब बढ़ गया है।

-हीमोग्लोबीन 10 से नीचे चला गया था जो अब 13 हो गया है।

देनिक भास्कर में रक्षाबंधन 7 अगस्त को  ऑल एडिशन प्रकाशित खबर..

————————————————————————————————————————————————————————————————————

मन की बात ….

—————————-

-शुक्रिया youtubeचैनल
“navya time news” जिसने मेरे जीवन से सम्बंधित एक घटना की  इस ” सूत के धागे के बंधन”की स्टोरी को अपने प्रतिष्टित यूट्यूब चेनल में स्थान दिया….!
दैनिकभास्कर ने भी इसे”ऑल एडिशन” में रक्षा बंधन के दिन प्रकाशित किया एवं भास्कर वेबपोर्टल में भी स्थान दिया…!
शुक्रिया navya टीवी….
शुक्रिया भास्कर….
शुक्रिया भास्कर वेवपोर्टल…
आभार…..

शुक्रिया मेरे असंख्य शुभचिंतको का जिन्होंने मेरे इस अभियान में ”तन-मन-धन-दुआ-शेयर दान”से मेरा साथ दिया,और रक्षाबंधन के इस पुनीत अवसर पर प्रकाशित इन खबरों के बाद प्रत्यक्ष ,परोक्ष ,व् शोशल साइड पर शब्दों- भावनाओ  के रूप में अपना असीम स्नेह और आशीर्वाद उड़ेल दिया ….| 

ह्रदय  से आभार ……|

ईश्वर से कामना है कि जल्द इस बहन को स्वस्थ करे और इस परिवार में खुशियां लौटाए…..!

@ बृजेश तोमर शिवपुरी@
94254-88524 (whatsup)
99930-16900
79998-81392

email- bstomar900@gmail.com , info.khabaraajkal@gmail.com

—————————————————————————————————–