चोटी काटने वाली चुड़ैल की दुकान पहुंची झांसी,शिवपुरी, स्थानीय लोगों में फैली दहशत

2751

झांसी/शिवपुरी-रात के अंधेरे में महिलाओं की चोटी काटकर दहशत फैलाने वाली चुड़ैल की दुकान अब झांसी पहुंच चुकी हैं। जिससे स्थानीय लोगों में काफी दहशत का माहौल है। इससे पहले महिलाओं की चोटी काटने की सनसनीखेज घटना कई और राज्यों में प्रकाश में आ चुकी है। कुछ लोग इसको किसी अदृश्य शक्ति का प्रकोप मांगते हैं तो कुछ लोग इस घटना को किसी शरारत व्यक्ति की करतूत बताते हैं। इन सब बातों के पीछे सबसे हैरानी वाली बात यह है कि आखिर पूरे देशभर में महिलाओं की चोटी काटकर घटना को अंजाम देने वाला कौन है। चोरी छुपे महिलाओं की चोटी काटने की सनसनीखेज घटना आज सभी की जुबान पर चर्चा का विषय बना हुआ है तो वह लोगों में दहशत का माहौल है।

इसी सनसनीखेज घटना का एक मामला आज झांसी के ग्राम बिजौली में देखने को मिला। यहां ग्राम बिजौली में रहने वाली फूलवती उम्र लगभग 60 वर्ष पत्नी स्वर्गीय भरोसी राजपूत आज सुबह करीब 8:00 बजे जब सोकर उठी तो उन्होंने देखा कि उनकी चोटी कटी हुई है और चोटी का कटा हुआ भाग उनके घर के दरवाजे के दहलीज पर पड़ा है। यह देखकर फूलवती घबरा गई और इस सनसनीखेज घटना की जानकारी उन्होंने ग्रामवासियों को दी। जिससे पूरे गांव में दहशत फैल गई। फूलवती इस घटना के बारे में बताती है कि उनके सपने में एक काली रंग की परछाई दिखाई दी। जिससे वह घबरा गई और आंखें खुली तो देखा कि उनकी चोटी कटी हुई थी। महिलाओं की चोटी काटने की सनसनीखेज घटनाओं के पीछे का सच क्या है। इसके बारे में किसी के पास भी कोई भी सही और पुख्ता जानकारी नहीं है।जिससे लोगों में तेजी से भय का माहौल दिख रहा है।

इसके अलावा शिवपुरी जिले के बैराड़ तहसील में नगर परिषद क्षेत्र में गायत्री मंदिर के पीछे निवास करने वाली महिला हमीर तोमर,व् रायपुर ग्राम के सोनाराम जाटव् की पुत्रीअन्नी जाटव् के सिर के बाल भी बीती रात कटे हुए मिले जिससे गांव में दहशत का माहौल निर्मित हो गया है।

आखिर क्या है क्योंकि काटने वाली चुड़ैल का सच….
क्या पूरे देश में कोई शरारती तत्व इस घटना को अंजाम देकर दहशत फैलाने की कोशिश कर रहा है। सबसे बड़ा सवाल यह भी है कि जिन महिलाओं की चोटी काटी गई आखिर उन महिलाओं की चौकी काटने से दहशतगर्द को या छोटी काटने वाली चुड़ैल को क्या फायदा हो सकता है। आखिर चोटी काटने वाली चुड़ैल का मकसद क्या है। यह सवाल अब दिन-ब-दिन बड़ा रहस्य बनता जा रहा है।