कांग्रेस विधायक बोली, सरकार के दबाव में पुलिस ने की कार्रवाई…

709

भोपाल।

राष्ट्रपति चुनाव में मतदान देने के लिए आज विधायक शंकुलता खटीक भी विधानसभा पहुंची। जहां उन्होंने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि मेरे खिलाफ सरकार ने साजिश रची है। दलित विधायक होने की वजह से सरकार ने मुझ पर पुलिस द्वारा दबाव बनाया है। मुुझे फंसाने की कोशिश की जा रही है। कोर्ट ने मुझे स्टे दिया है और मैं यहां राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट करने आई हूं।

बता दे कि शंकुलता खटीक शिवपुरी जिले के करैरा की कांग्रेस विधायक है, जो आज मानसून सत्र और राष्ट्रपति चुनाव में शामिल होने भोपाल पहुंची है।सुप्रीम कोर्ट से अग्रिम जमानत मिलने के बाद वो निधानसभा वोट डालने पहुंची। हालांकि कार्यवाही कल के लिए स्थगित कर दी गई है।कल से कार्यवाही शुरु की जाएगी जिसमें वो शामिल होगी।

गौरतलब है कि किसान आंदोलन के समय विधायक शंकुलता थाने में आग लगा दो वाला बयान दिया था , तब से ही उन पर कानूनी कार्रवाही की जा रही है।कोर्ट ने उनकी जमानत खारिज कर दी है। उन पर थाने को जलाने के लिए उकसाने, सरकारी काम में रुकावट और किसानों को हिंसा के लिए उकसाने का आरोप लगा है। खटीक मंदसौर में पुलिस फायरिंग में मारे गए किसानों को लेकर प्रदर्शन कर रही थीं।