बदलते दौरा में हंसी-ठहाको से ओतप्रोत है फिल्म ‘घंटा चोरी हो गया : अभिनेता विनोद बिरला

2382
शिवपुरी- फिल्म कोई भी उसका उद्देश्य यह नहीं होता कि वह मनोरंजन के लिए ही बनाई जाए कुछ फिल्में ऐसी भी होती है जो जीवन में सीख देने का काम करती है हमारी फिल्म ‘घंटा चोरी हो गयाÓ तो ऐसी है जिसमें मनोरंजन भी है और वह सीख भी देती है जब दो परिवार गांव में आने वाले भीषण संकटों को दूर करने के लिए मंदिर पर घंटा टंागते है और वह दो परिवार इस घंटे को पाने और गांव में सुख-शांति के लिए इस घंटे की तलाश करते है ऐसे ही कुछ पलो के बीच खूंब हंसी, ठहारों से ओतप्रोत यह फिल्म है हम आशा ही नहीं पूर्ण विश्वासहै कि हमारी फिल्म ‘घंटा चोरी हो गयाÓ लोगो के दिलों पर राज करेगी। यह जानकारी दी फिल्म ‘घंटा चोरी हो गयाÓ में सचिव की भूमिका निभा रहे मुख्य अभिनेता विनोद बिरला ने जो स्थानीय होटल जायका मे आयोजित प्रेसवार्ता को अपनी टीम के साथ संबोधित कर रहे थे। इस हंसी-मजाक से ओतप्रोत फिल्म घंटा चोरी हो गया को डायरेक्ट किया डायरेक्टर निर्भय सिंह गुर्जर जबकि फिल्म के प्रोड्यूसर विक्रम सिंह गुर्जर है इसके अलावा फिल्म में सह अभिनेता राघवेन्द्र तिवारी, पंडिताईन का किरदार निभा रही नम्रता ताई, मुख्य अभिनेत्री छाया सेनी आदि का किरदार भी रोचक है जो जनता को बेहद पसंद आएगा। शिवपुरी में अपने फिल्म को लेकर चर्चा करने पर अभिनेता विनोद बिरला ने बताया कि शिवपुरी में उनकी ससुराल है और उनकी पत्नि श्रीमती सीमा बिरला जो कि शिवपुरी निवासी है उनका मन था कि शिवपुरी का नाम भी बॉलीबुड और देश के प्रसिद्ध शहर मुम्बई मे लोग जान सके। इसके अलावा शिवपुरीवासी भी इस फिल्म का लुत्फ लें और अधिक से अधिक संख्या में स्क्रीन पर देखकर गौरान्वित हो सके कि शिवपुरी की बेटी के पति भी इस फिल्म में मुख्य भूमिका में किरदार निभा रहे है। इस अवसर पर फिल्म यूनिट से जुड़े कई फिल्मी कलाकार भ प्रेसवार्ता में मौजूद थे। फिल्म 14 जुलाई को रिलीज होगी।
मप्र में टैैक्सी फ्री के लिए करेंगें सरकार से बात
फिल्म अभिनेता विनोद बिरला ने बताया कि हमारी फिलम का ज्यादातर निर्माण मप्र के उज्जैन और आसपास के क्षेत्रों में हुआ है जिसमें मप्र की आवोहवा पूरी तरह से नजर आएगी, लगभग 80 प्रतिशत की फिल्म का निर्माण मप्र में हुआ है जबकि 20 प्रतिशत फिल्म की शूटिंग मुम्बई में हुई है। ऐसे में हमारा प्रयास होगा कि मप्र सरकार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से चर्चा कर फिल्म को टैक्सी फ्री किया जाए।