बाढ़ पर सियासत तेज । कमलनाथ बोले-राजनीति छोड़ बाढ़ पीड़ितों को केंद्र से मदद दिलाने में साथ दे भाजपा..! शिवराज बोले-2 दिन में राहत कार्य शुरू नही तो आंदोलन करेगी भाजपा…

91

भोपाल .मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा पर बाढ़ पीड़ितों के मामले में सियासत करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि अतिवृष्टि के कारण 10 हजार करोड़ रुपए से अधिक का नुकसान हुआ है। भाजपा के नेता और सांसदों को चाहिए कि वे बाढ़ पीड़ितों के नाम पर राजनीति करने के बजाए उन्हें राहत पहुंचाने में राज्य सरकार की मदद करें। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि बाढ़ प्रभावितों को लेकर उनकी मुख्यमंत्री से चर्चा हुई है।

बारिश रुकने पर दोबारा फसलों के नुकसान का सर्वे कराए जाने पर बात हुई है। उधर, मंदसौर में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को एक चिट्‌ठी लिखकर चेतावनी दी है कि दो दिन में राहत कार्य शुरू नहीं हाेता है तो 21 सितंबर से वे मंदसौर में अंहिसात्मक आंदोलन करेंगे।उन्होंने कहा कि बाढ़ में किसानों का सबकुछ बर्बाद हो चुका है। ऐसे में सरकार को बिजली बिल माफ करना चाहिए।

राज्य में 50 हजार लोग अब भी राहत शिविरों में :राज्य के पश्चिमी और मध्य क्षेत्र में बारिश ने जमकर कहर ढाया है। इसमें मंदसौर, नीचम, बड़वानी, धार और अलिराजपुर में तो मानव जनित बाढ़ के हालात बने हैं। कहीं सरदार सरोवर तो कहीं गांधी सागर बांध का पानी मुसीबत का कारण बना हुआ है। राज्य में 50 हजार से ज्यादा लोग राहत शिविरों में रहने को मजबूर हैं।

मप्र सरकार का आरोप- 30 दिन पहले 138.68 मीटर भर दिया सरदार सरोवर डैम, इसलिए राज्य में कृत्रिम बाढ़

गृह मंत्री बाला बच्चन और जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने आरोप लगाया कि गुजरात सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन मनाने के लिए मप्र के 76 गांवों को कृत्रिम बाढ़ आपदा की तरफ धकेल दिया। नर्मदा कंट्रोल अथॉरिटी (एनसीए) के शैड्यूल से 30 दिन पहले गुजरात सरकार ने सरदार सरोवर डैम 138.68 मीटर पूरा भर दिया। इस मनमानी की वजह से धार और बड़वानी जिले में हजारों लोग संकट में फंसे है। मंत्री शर्मा ने कहा कि 2019 के लिए सरदार सरोवर डैम में पानी भरने का शैड्यूल जारी किया था, उसे गुजरात सरकार ने नहीं माना। डैम को पूर्ण स्तर पर 138.68 मीटर 15 सितंबर को भर दिया गया, जबकि तय शेड्यूल के मुताबिक 15 अक्टूबर 2019 तक भरना चाहिए था। मंत्री बाला बच्चन ने कहा कि मोदी गुजरात के ही नहीं पूरे देश के भी प्रधानमंत्री हैं, उन्हें जन्मदिन के मौके पर प्रदेश के बाढ़ पीड़ितों की मदद करना चाहिए।