धमकी देना बंद करे दम है तो सरकार गिराकर बताए भाजपा : कमलनाथ

53

इंदौर में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने दी विषक्ष को खुली चुनौती
– कैलाश क्या किसी का भी बच्चा ऐसी हरकत करेगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी

इंदौर.

मुख्यमंत्री कमलनाथ शनिवार को इँदौर में थे। शाम को रवींद्र नाट्य ग्रह में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने भाजपा के शीर्ष नेताओं को चुनौती देते हुए कहा वे धमकी देना बंद करे, यदि दम है तो सरकार गिराकर बताए। अपने कार्यकर्ताओं का मनोबल बनाए रखने के लिए भाजपा के नेता ऐसे बयान देते हैं। नगर निगम के अफसर की क्रिकेट बेट से पिटाई के कारण जेल में बंद इंदौर-३ के विधायक आकाश विजयवर्गीय से जुड़े घटना क्रम पर बोले कैलाश विजयवर्गीय क्या किसी का भी बेटा ऐसी हरकत करेगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। हमारी सरकार बदले की नीयत से कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। कानून और पुलिस अपने अनुसार कार्रवाई कर रहा है और मैं उन्हें बधाई देता हूं। मैं अपने मंत्रियों को डराकर या खतरा दिखाकर काम नहीं कराता। हम सब मिल जुलकर काम कर रहे हैं। मंत्री मंडल विस्तार का फिलहाल मेरा कोई प्लान नहीं है, लेकिन यह एक सामान्य प्रक्रिया है जो होती रहती है।
भाजपा की तुलना में हमारा चुनाव तंत्र कमजोर

लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार को स्वीकार करते हुए कमलनाथ ने कहा भाजपा की तुलना में हमारा चुनाव तंत्र कमजोर है। हम हमारी बातें जनता तक नहीं पहुंचा सके और हार गए। प्रदेश को जल्द नया कांग्रेस अध्यक्ष मिलेगा और नए सिरे से संगठन की संरचना की जाएगी। मुख्यमंत्री बनते ही मैने अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश की थी पर मुझे काम करने को कहा गया था।

एक साल में पंचर हो जाएगा मोदी का गुब्बारा
केंद्र सरकार को निशाना बनाते हुए उन्होंने कहा जनता को भ्रमित कर लोकसभा चुनाव में भाजपा ने जीत हासिल की है। अगले एक साल में मोदी जी के विकास का गुब्बारा पंचर हो जाएगा। लोकसभा चुनाव को राष्ट्रवाद से जोडक़र जीत हासिल की गई।

मप्र तक सीमित कर ली है अपनी सोच

राहुल गांधी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के इस्तीफे की पेशकश को लेकर कमलनाथ ने कहा मुख्यमंत्री बनने के बाद मैंने मप्र तक अपनी सोच सीमित कर ली। हमारी पार्टी पूरे देश में है जो संगठन तय करेगा उसका निर्वहन करूंगा। लोकसभा हार के बाद संगठन को मजबूत करने के लिए मंथन चल रहा है और जल्द ही हम वापसी करेंगे। देश और प्रदेश के संगठन के विस्तार और मजबूती पर काम करेंगे।

कृषि और निवेश प्रथामिकता
कमलनाथ ने कहा प्रदेश के विकास के लिए पूरा रोड मैप तैयार है। प्रदेश की ७० फीसदी अर्थव्यवस्था कृषि से जुडी़ है इसलिए उसे मजबूत करना हमारी प्राथमिकता है। युवाओं को रोजगार और प्रदेश को आर्थिक रूप से मजबतू करने के लिए निवेश के लिए बेहतर महाौल बनाना है। पिछली सरकार की तरह कागजी नहीं बल्कि भरोसे के साथ वासतविक निवेश पर हमारी प्राथमिकता है। उन्होंने नई पीढ़ी से अचीवमेंट और उसके फुलफिलमेंट को लेकर चर्चा की।

२५ साल से फिल्म नहीं देखी, नहीं आता टीवी रिमोट चलाना

कार्यक्रम के दौरान अपने निजी जीवन के संबंध में कहा जब कॉलेज में था तो काफी फिल्में देखा करता था, लेकिन पिछले २५ साल से कोई फिल्म नहीं देखी। मुझे तो टीवी का रिमोट चलाते भी नहीं आता। दो दिन पहले भारत का मैच देखने का मन हुआ था सहयोगी को बुलाकर कहा टीवी में मैच लगा दो।