मोटर वाहन बिल में संशोधन एंबुलेंस को रास्ता नहीं देने पर 10000 तक का जुर्माना

51

नई दिल्ली केंद्र कैबिनेट में मोटर वाहन संशोधन बिल को मंजूरी दे दी इसमें ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर भारी जुर्माना का प्रस्ताव है एंबुलेंस जैसे वाहनों को रास्ता नहीं देने पर ₹10000 तक का जुर्माना लगेगा आयोग घोषित किए जाने के बावजूद वाहन चलाने पर भी ₹10000 जुर्माना देना होगा या बिल पहले राज्यसभा में लंबित था लेकिन 16 बी लोकसभा का कार्यकाल खत्म होने के बाद निरस्त हो गया था
सूत्रों ने बताया कि इस बिल में नाबालिगों के गाड़ी चलाने बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने रैश ड्राइविंग ड्रंकन ड्राइविंग ओवरस्पीड और ओवरलोडिंग पर भी कड़े जुर्माने का प्रावधान है ओला उबेर जैसे एग्रीग्रेटर्स ने ड्राइविंग लाइसेंस के नियमों का उल्लंघन किया तो ₹100000 तक जुर्माना लगेगा बिल के प्रावधान 18 राज्यों के परिवहन मंत्रियों को सिफारिशों पर आधारित है इन सिफारिशों को सांसद स्थायी समिति ने भी रखा है
*बिना हेलमेट पकड़े जाने पर 3 महीने तक लाइसेंस सस्पेंड होगा*
ओवर स्पीडिंग के लिए 1000 से 2000 और बिना बीमा पाली सी गाड़ी चलाने पर ₹2000 जुर्माना लगाया जा सकेगा
बिना हेलमेट दोपहिया चलाने पर एक हजार जुर्माना लगेगा साथ ही 3 माह के लिए लाइसेंस भी सस्पेंड किया जाएगा
नाबालिक ने गाड़ी चलाते हुए अपराध किया तो गाड़ी मालिक अभिभावक दोषी होंगे 3 साल की सजा और ₹25000 जुर्माना होगा रजिस्ट्रेशन भी रद्द होगा
ट्रैफिक नियम तोड़ने पर कम से कम ₹100 की जगह ₹500 जुर्माना अधिकारियों का आदेश नहीं मान्य पर 500 की जगह ₹2000 जुर्माना देना होगा
👎🏻
*उम्र कैद काट रहे राम रहीम ने खेती के लिए मांगी पैरोल*
सिरसा साथियों से दुष्कर्म और पत्रकार छत्रपति हत्याकांड में रोहतक की सुनारिया जेल में सजा काट रहे हैं
डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत सिंह राम रहीम ने पैरोल पर रिहा करने की अर्जी लगाई है
इसके लिए उसने खेती-बाड़ी को कारण बताया है
सूत्रों के अनुसार सिरसा के तहसीलदार ने जिला पुलिस प्रशासन को सौंपी रिपोर्ट में बताया है कि डेरे के पास कुल 250 एकड़ जमीन है
जिसमें कहीं भी गुरमीत सिंह मालिक या काश्तकार नहीं है
खेती के लिए मांगी पैरोल का आधार प्रशासन की नजर में नहीं बन रहा है
अटकलें हैं कि आधार पर गुरमीत को पैरोल मिलना मुश्किल है