सड़क दुर्घटना में दो की मौत दो घायल *शव को कब्जे मे लेने के लिए पुलिस के छुटे पसीने

48

राकेश कु०यादव:~

बछवाड़ा (बेगूसराय):~ बछवाडा़~हाजीपुर पथ में सिंगल लेन रहने के कारण दुर्घटनाओं में लोगों की मौत होती हीं रहती है। उक्त पथ की चौड़ीकरण की मांग उठती रही है। मगर सरकार एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा इस मांग को दरकिनार किया जाता है । थाना क्षेत्र के अलग –अलग सड़क दुर्घटना में दो लोगो की मौत हो गयी वही दो लोग बुरी तरह से घायल हो गया। घायल का ईलाज पीएचसी बछवाड़ा के कराया जा रहा है। गुरूवार की सुबह मुरलीटोल (बछवाडा़)से हाजीपुर जाने वाली सड़क में समसीपुरभीठ गांव के समीप ट्रक के चपेट में आने से बाइक पर सवार महिला की मौत हो गई वही बाइक चालक बुरी तरह से घायल हो गया। प्रत्क्षदर्शियो ने बताया कि मुरलीटोल से विद्यापति की तरफ बालू से लदी ट्रक जा रही थी समसीपुरभीठ गांव के समीप विद्यापति से बछवाड़ा की ओर जा रही बाइक पर सवार होकर जा रही पति पत्नी ने ट्रक के बगल से अपनी बाइक निकलना चाहा लेकिन सिंगल सड़क रहने व सड़क के किनारे फलेंक नहीं रहने के कारण ट्रक के बगल से बाइक निकालने के दौरान बाइक फिसल गया जिस कारण बाइक पर सवार महिला गिरकर ट्रक के चक्के के नीचे दब गया। जिस कारण उसकी मौत घटना स्थल पर ही हो गई। वही बाइक चालक बुरी तरह से घायल हो गया। घटना की सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दिया। घटना स्थल पर पुलिस करीब दो घंटे बाद पहुंचने के कारण ग्रामीण आक्रोशित हो गए और जमकर हंगामा किया।जिस कारण पुलिस को भी ग्रामीणों का कोपभाजन का शिकार होना पड़ा। ग्रामीणों का कहना था कि टॉल प्लाजा से बचने के लिए अधिकतर ओवर लोड वाहन सिंगल सड़क बछवाडा़ -हाजीपुर सड़क से गुजरता है सिंगल सड़क रहने के कारण हमेशा आने जाने वाले लोग दुर्घटना का शिकार होते रहते है। ग्रामीणों का कहना था की सिंगल सड़क से ओवर लोड भाड़ी वाहन को इस रास्ते से चलने पर प्रतिबंध लगाया जाय।

उन्होंने कहा कि एक तो सिंगल सड़क है ऊपर से सड़क निर्माण के बाद सही से फलैंक का निर्माण नहीं किया गया।जिस कारण एक वाहन गुजरने के बाद दुसरे वाहन को गुजरना मुश्किल होता है। जब तक वरीय पदाधिकारी के द्वारा कोई ठोस निर्णय नहीं लिया जाता है तब तक शव को जाने नहीं देगे।घटना की सूचना पर मौके पर पहुंचे प्रखंड विकास पदाधिकारी डॉ विमल कुमार,अंचलाधिकारी सूरजकांत ने लोगो को समझाने बुझाने का प्रयास किया लेकिन लोग अपनी बात पर अड़े रहे करीब तीन घंटे के बाद बीडीओ एवं सीओ ने वरीय पदाधिकारी से फोन पर बातचीत कर सड़क से बड़ी वाहन गुजरने पर प्रतिबंध लगाने के आश्वासन देने के बाद लोग सड़क पर से हटे। मृतक की पहचान समस्तीपुर जिले के मोहुद्धीन नगर थाना क्षेत्र करीम नगर गांव निवासी असगर अली की 26 वर्षीय पत्नी अंगूरी खातून के रूप में की गई है । घायल असगर अली ने बताया कि एक साल पूर्व हमारी शादी हुई थी अपनी गर्भवती पत्नी को ईलाज के लिए बेगूसराय ले जा रहे थे। ठोकर मारने के बाद ट्रक का चालक ट्रक छोड़ फरार हो गया। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए बेगूसराय अस्पताल भेज दिया वही ट्रक और बाइक को जप्त कर लिया। वही फतेहा गांव के समीप एनएच 28 पर गुरूवार की सुबह अनियंत्रित बोलेरो के चपेट में आने से एक वृद्ध व्यक्ति की मौत गो गई वही एक अन्य लोग बुरी तरह से घायल हो गया। ग्रामीणों ने बताया कि फतेहा गांव निवासी 75 वर्षीय सूरज दास व 60 वर्षीय शकलदेव महतो फतेहा चौक की ओर से एनएच 28 के किनारे से अपने घर पैदल अपने घर जा रहा था। दलसिंहसराय की तरफ से तेज रफ़्तार से बछवाड़ा की तरफ जा रही बोलेरो अनियंत्रित होकर ठोकर मार दिया। जिस कारण दोनों व्यक्ति घायल हो गया। ग्रामीणों ने ठोकर मार कर भाग रहे बोलेरो को खदेड़ कर पकड़ लिया। तथा उसी बोलेरो से दोनों घायल व्यक्ति को इलाज के लिए दलसिंहसराय अस्पताल ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान सूरज दास की मौत हो गई। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची बछवाड़ा थाना की पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे में कर पोस्ट मार्टम के लिए बेगूसराय भेज दिया वही दलसिंह सराय की पुलिस ने बोलेरो को अस्पताल से ही अपने कब्जे में कर लिया।