डॉक्टर्स की हड़ताल के चलते बंगाल में 28 मरीजों की मौत, देश भर में हो रहा प्रदर्शन

58

बंगाल में चल रही डॉक्टर्स की हड़ताल का असर अब देश के अन्य राज्यों में भी पड़ने लगा है. दिल्ली, यूपी, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र समेत देश के कई हिस्सों में डॉक्टर्स ने काम करने से इनकार कर दिया है.

कोलकाता: डॉक्टर्स की हड़ताल के चलते पश्चिम बंगाल में अब तक 28 मरीजों की मौत हो चुकी है. इन मृतकों में तीन बच्चे भी हैं. इसके बावजूद डॉक्टर्स की हड़ताल जारी है. डॉक्टर्स ने काम पर जाने से इनकार कर दिया है. राज्य के अस्पतालों में डायलिसिस की सुविधा बंद है, मरीजों की ऑक्सीजन भी नहीं दिया जा रहा है. इन सबके बीच बढ़ती मौतों के आंकड़ों ने कई गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं.

कोलकाता के सरकारी एनआरएस मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में सोमवार की रात एक मृत मरीज के परिजनों ने दो जूनियर डॉक्टर्स पर हमला किया था. इस घटना से मेडिकल एसोसिएशन में गुस्सा है, डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं.

ूसरी तरफ, राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी डॉक्टरों पर ही हमलावर हैं. पश्चिम बंगाल मेडिकल काउंसिल के अध्यक्ष निर्मल माजी ने गुरुवार को कहा कि हड़ताली डॉक्टर अगर काम पर नहीं लौटे तो उनका पंजीयन रद्द हो सकता है और उनका इंटर्नशिप पूरा होने का पत्र रोक दिया जाएगा.

बंगाल में चल रही डॉक्टर्स की हड़ताल का असर अब देश के अन्य राज्यों में भी पड़ने लगा है. दिल्ली, यूपी, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र समेत देश के कई हिस्सों में डॉक्टर्स ने काम करने से इनकार कर दिया है. कई शहरों में डॉक्टर सड़क पर उतर आए हैं और नारेबाजी कर रहे हैं