भाजपा-कांग्रेस के दमन का स्वरूप बनेगी सपाक्स समाज पार्टी : राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी* *विधासभा चुनावों को लेकर सपाक्स पार्टी निकली प्रदेश भ्रमण पर, 230 विधानसभा लड़ेंगी*

260

*भाजपा-कांग्रेस के दमन का स्वरूप बनेगी सपाक्स समाज पार्टी : राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी*

*विधासभा चुनावों को लेकर सपाक्स पार्टी निकली प्रदेश भ्रमण पर, 230 विधानसभा लड़ेंगी*

शिवपुरी-माननीय सर्वोच्च न्यायालय के फैसलों के विपरीत कानून बनाकर जब सत्ताधारी दल अपनी मनमानियां करेंगें तो ऐसे दलों के विरोध में भी लेाग आऐंगें, केन्द्र की भाजपा सरकार ने एट्रोसिटी एक्ट को लेकर जो सुप्रीम कोर्ट के कार्य में दखल किया है उसे भारतीय लोकतंत्र की राजनीति धूमिल हो गई है हम उस धूमिल छवि को स्वच्छ करने के लिए एट्रोसिटी एक्ट का विरोध कर रहे है यह विरोध नहीं बल्कि यह एससी एसटी, पिछड़ों, सामान्य और अल्पसंख्यकों के साथ मिलकर बनने वाला राजनीतिक दल के रूप में सपाक्स समाज पार्टी लोकतंत्र में आकर राजनीति के माध्यम से भाजपा-कांग्रेस के दमन का स्वरूप बनकर सपाक्स समाज पार्टी उभरेगी, जिसकी आज समय के अनुसार आवश्यकता महसूस हो रही है मप्र में की 230 विधानसभाओं में सपाक्स समाज पार्टी भी पुरजोर तरीके से चुनाव लड़ेगी और इसके लिए प्रत्याशी चयन प्रक्रिया अपनाई जा रही है जिसके चलते संपूर्ण मप्र में सपाक्स समाज पार्टी भ्रमण पर निकली है प्रत्याशियों से वायोडाटा और सर्वे व स्थानीयता में प्रत्याशी की छवि को लेकर पार्टी उचित फैसला कर अपना उम्मीदवार उतारेगी बाबजूद इसके एट्रोसिटी एक्ट का हम खुलकर विरोध करेंगें। उक्त बात कही नवगठित दल सपाक्स समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हीराला त्रिवेदी ने जो स्थानीय होटल पीएस में आयोजित सपाक्स समाज पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक पश्चात आयोजित प्रेसवार्ता को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान पार्टी के संगठन सचिव सुरेश तिवारी व सपाक्स समाज पार्टी जिला शिवपुरी के कार्यकारी अध्यक्ष गजेन्द्र सिंह सोलंकी, सचिव हरिशंकर दुबे, कोषाध्यक्ष सूरज जैन व जिला कार्यालय प्रभारी महेन्द्र जैन भैय्यन विशेष रूप से मौजूद थे। इस दौरान एट्रोसिटी एक्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट मामले को लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार ने संविधा की मूल आत्मा के खिलाफ कार्य किया है उन्होंने कहा कि प्रशासनिक अधिकारी जो मूल रूप से 75 प्रतिशत शासन की रीढ़ है वह भी अपने दायित्वों को सही ढंग से नहीं निभा रहा जिसके चलते इस तरह के घटनाक्रम घटित हो रहे है और सब कुछ जानने के बाद भी सरकार के आदेशों में दबे हुए है जबकि अधिकारियों को खुलकर इस तरह के मामलों का विरोध करना चाहिए और उसका न्याय संगत तर्क देकर अपनी कर्मठ कर्तव्य परायणता का जबाब देना चाहिए अन्यथा ऐसे पद पर रहना ही नहीं चाहिए लेकिन बहुत ही कम प्रशासनिक अधिकारियों में इस तरह का दंभ होता है जो खुलकर सामने आते है और नहीं तो सभी अधिकारी चुप रहकर अपना कार्यकाल पूरा कर चले जाते है।
*वर्गभेद को बढ़ावा दे रही भाजपा-कांगे्रस : संगठन सचिव सुरेश तिवारी*
सपाक्स समाज पार्टी की ओर से संगठन सचिव के रूप में दायित्व निभा रहे सुरेश तिवारी ने इस अवसर पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा और कांग्रेस वर्गभेद को बढ़ावा देकर जातियों में मानवों को बांटने का कार्य कर रही है हम एट्रोसिटी एक्ट का विरोध जताकर सभी को एक मंच पर लाने का प्रयास कर रहे है हमारे साथ एससी भी है और एसटी भी है इसके साथ ही सभी जातियों का वर्ग भी सपाक्स समाज से जुड़ा हुआ है भ्रष्टाचार को दूर कर सभी वर्गों को मिलाकर काम करने का हमारा पूरा प्रयास है और आने वाले समय में मप्र में सपाक्स समाज पार्टी अपनी सरकार बनाएगी इसे लेकर भी हम विश्वस्त है। उन्होंने बताया कि हम शीघ्र ही घोषणा पत्र तैयार करवा रहे है जिसमें सभी वर्गों को साथ रखकर जनहितैषी मुद्दों को जोड़ा जाएगा ताकि हरेक वर्ग लाभान्वित हो, उन्होंने कांग्रेस और भाजपा को नागनाथ और सांपनाथ की संज्ञा से भी नवाजा और कहा कि दोनों ही एक जैसे है और जनता को छलने का काम कर रहे है।
*भाजपा एससी वर्ग प्रकोष्ठ अध्यक्ष का भाई सपाक्स में हुआ शामिल*
प्रेसवार्ता के दौरान सपाक्स समाज पार्टी की एहमियत को बताते हुए संगठन सचिव सुरेश तिवारी ने बताया कि अभी कुछ दिनों पूर्व ही खरगौन में भाजपा पार्टी के एसपी प्रकोष्ठ वर्ग के अध्यक्ष भूपेन्द्र आर्य के भाई ने सपाक्स पार्टी की नीति को देखते हुए सपाक्स पार्टी को ज्वाईन किया है। ऐसे ही अन्य जगह भी कई लोग सपाक्स से जुड़ेंगें जिसमें कई भाजपा में तो कई कांग्रेस में जुड़े हुए है वह भी धीरे-धीरे पार्टीयों से बाहर निकलकर सपाक्स की सदस्यता लेकर हमारे संगठन से जुड़कर इसे गति प्रदान करने का कार्य करेंगें।