शिवपुरी में रहा ऐतिहासिक बन्द।

253

भारत बंद का दिखा व्यापक असर।
सपाक्स ने भी दिखाई अपनी शक्ति।
जनशक्ति युवा मोर्चा के साथ साथ क्षत्रिय राजपूत महासभा,अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा,करनी सेना,पेट्रोल पंप एशोसिएशन, कपड़ा संघ,मेडिकल एशोसिएशन,प्रिंटिंग प्रेस,जूता व्यापार संघ,कम्प्यूटर असोशिएशन, सपना ट्रेवल्स,भदौरिया ट्रेवल्स,युवा आगाज आपकी आवाज संगठन,मिष्ठान भंडार एशोसिएशन, दूध व्यापार संघ,व्यापारिक संगठन सहित सभी संस्थाओं सहित सवर्ण समाज,अल्पसंख्यक, पिछड़ा वर्ग आये एक साथ।
शिवपुरी में आज ऐतिहासिक बंद रहा।पुलिस के चाक-चौबंद व्यवस्था के साथ ही शिवपुरी बन्द पूर्णतः शांतिपूर्ण रहा।
जन मानस ने दिया बन्द को पूरा समर्थन।सुबह से ही बन्द का माहौल पूरी शिवपुरी में साफ नजर आया,पान की गुमटियों से लेकर निम्न वर्ग के पटवा दुकान दरों ने तक अपनी दुकानों को बंद रखा।इससे सीधा संदेश गया की सरकार का कितना विरोध है इस संशोधित कानून को लेकर जिसे अब नागरिक अंधा कानून तक कहने से नही हिच किचा रहे।


बंद में विशेष रूप से देखा गया कि नेताओ ने अपनी दूरी बनाकर रखी।छुट-पुट नेताओं से लेकर उनके समर्थक भी पूर्णतः गायब ही दिखे जिससे जनता जनार्दन के रोष से बचे रहे और कोई अप्रिय समाचार नही मिला।आगामी समय में अगर एक मंच पर सभी वर्ग एक साथ रहे तो सरकार के लिये यह स्थिति बेहद निराशाजनक होने वाली होगी।