शिवपुरी – प्रधानमंत्री के बजाय खुद की उपलब्धियों के बखान में जुटे रहे प्रभारी मंत्री रुस्तम सिंह । *पीएम मोदी की चार साल की उपलब्धि गिनाने आए प्रभारी मंत्री नहीं बता पाए शिवपुरी व प्रदेश में कितने लोगों को मिले उज्जवला योजना में गैस कनेक्शन* – *पत्रकारवार्ता में शिवपुरी में पानी, सड़क की हालत खराब रहने के प्रश्नों को टालते नजर आए*

765

शिवपुरी – प्रधानमंत्री के बजाय खुद की उपलब्धियों के बखान में जुटे रहे प्रभारी मंत्री रुस्तम सिंह

केंद्र में मोदी सरकार के 4 साल पूर्ण होने पर गिनाने आए थे उपलब्धियां

*पीएम मोदी की चार साल की उपलब्धि गिनाने आए प्रभारी मंत्री रूस्तम सिंह नहीं बता पाए शिवपुरी व प्रदेश में कितने लोगों को मिले उज्जवला योजना में गैस कनेक्शन*

– *पत्रकारवार्ता में शिवपुरी में पानी, सड़क की हालत खराब रहने के प्रश्नों को टालते नजर आए*

– *प्रदेश में एंटी इनकबेंसी की खबरों के बीच कहा जनता के बीच है भाजपा की पकड़* 

*शिवपुरी*। 

केंद्र में भाजपा की मोदी सरकार के 4 साल पूर्ण होने पर उपलब्धियों को गिनाने आये शिवपुरी के प्रभारी मंत्री रुस्तम सिंह सरकार की कम खुद की उपलब्धियों को गिनाने में पत्रकारों के समक्ष अधिक व्यस्त नजर आए ।पत्रकार वार्ता के दौरान प्रभारी मंत्री रुस्तम सिंह अपने पुलिस अधीक्षक व आईजी कार्यकालों के दौरान इंदौर जबलपुर की उपलब्धियों को बखूबी गिनाते रहे जबकि मोदी सरकार की उपलब्धियों का बखान बहुत मामूली अंदाज में किया ।सिर्फ इतना ही नहीं आंकड़ों की बाजीगरी दिखाने आए प्रभारी मंत्री रुस्तम सिंह शिवपुरी के वर्तमान हालातों बाबत पूछे गए प्रश्नों पर बगलें झांकते रहे।

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री और शिवपुरी जिले के प्रभारी मंत्री रूस्तम सिंह रविवार को जब पीएम नरेंद्र मोदी के चार साल की उपलब्धियां गिनाने के लिए मीडियाकर्मियों के सामने आए तो वह यह तक नहीं बता पाए कि देश व प्रदेश में उज्जवला योजना के तहत कितने हितग्राहियों को गैस कनेक्शन दिए गए हैं। इतना ही नहीं जब पत्रकारों ने पूछा कि देश व प्रदेश छोड़िए आप तो शिवपुरी जिले के गैस कनेक्शनधारी लोगों की संख्या ही बता दीजिए। इस पर भी स्वास्थ्य मंत्री बगले छांकते नजर आए। प्रभारी मंत्री द्वारा केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकारों की उपलब्धियां बताने के लिए रविवार का कलेक्टे्रट में पत्रकारवार्ता का आयोजन किया गया था। पत्रकारों ने जब शिवपुरी शहर के पेयजल समस्या और सड़कों को लेकर प्रश्न किए तो प्रभारी मंत्री रूस्तम सिंह इन प्रश्नों का सीधा उत्तर देने से कतराते नजर आए। प्रभारी मंत्री ने इतना जरूर कहा कि वर्ष 2003 से पहले प्रदेश पिछड़ा हुआ था और आज भाजपा की सरकार में प्रदेश विकास के पथ पर आगे बढ़ता जा रहा है।  उन्होंने कहा कि फसल उत्पादन, स्वास्थ्य, सिंचाई व अन्य क्षेत्र में आज मप्र विकसित प्रदेश की श्रेणी में आ खड़ा हुआ है।