करैरा – “अन्नदाताओं का महासंग्राम “**विशाल किसान पंचायत 13मार्च को करैरा में*

1438

*विशाल किसान पंचायत का आयोजन कल* *13मार्च को करैरा में*

*किसान तो रहेगा मौन*
*तो तेरी सुनेगा कौन*

*अपनी मांगो को लेकर कल करेरा मैं होगी किसान महापंचायत*

*सिचाई, मुआवजा, गेहु खरीदी ओर विधुत समस्या को लेकर हो रही है किसान पंचायत*

शिवपुरी/करैरा -बद से बदतर स्थिति  मैं पहुंचता जा रहा किसान अब आर-पार की लड़ाई लड़ने के मन में आ गया है अपनी उपेक्षा से बुरी तरह से दुखी किसान ने बिना किसी राजनीतिक दल के सिर्फ किसानों का ही बड़ा आंदोलन करेरा में खड़ा कर दिया जिसका महासंग्राम 13 मार्च को होने जा रहा है।

किसान पंचायत के पदाधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार करैरा मैं 13 मार्च मंगलवार के दिन सुबह 10:00 बजे से किसान पंचायत का आयोजन किया जा रहा है जिसमें किसानों के दुबारा अपनी विभिन्न समस्याओं को लेकर यह पंचायत का आयोजन किया जा रहा है किसानों ने बताया हमारी करैरा तहसील विगत कई वर्षो से सूखा से पीड़ित है इस वर्ष तो शासन दुबारा सूखाग्रस्त घोषित है लेकिन हमें मुआवजे के नाम पर केवल भरोसा दिया जा रहा है जबकि सीमान्तर जिलों मैं सूखा राहत बट भी चुकी है तो आखिर क्या वजह है कि हमे अभी तक सूखा राहत नही मिल पा रही है

वही खैराई गांव मैं नदी पर स्टॉप डैम बनाया जा रहा है लेकिन अव्यवस्था के चलते विगत 4 वर्षों से उस स्टॉप डैम का काम बंद है यह स्टाप डेम खैराई सहित दस गांव के किसानों की फसल के लिए जीवन देने का काम करेगा जनहितैषी योजना होने के बाबजूद इस योजना के प्रति शासन और प्रशासन का रबैया ठीक नही हमारी मांग है कि जल्द से जल्द से स्टॉप डेम का काम शुरू करवाया जाये

किसान नेताओं से मिली जानकारी के अनुसार गेहूं खरीद भी खरीद केंद्र पर नहीं हो रही है और दलालों का कब्जा गेहूं खरीद केंद्रों पर है।और दिनारा तालाब की समस्याओं को लेकर किसानों ने बताया कि दिनारा तालाब में नहर का काम धीमी गति से चल रहा हैं और तालाब में दबंगो का कब्जा हैं।
विद्युत विभाग की बहुत बड़ी समस्या है एक घर में तीन,तीन बिल थमा दिए जा रहे हैं विद्युत विभाग ने परिवार ID के अनुसार बिल भेज दिए हैं जबकि परिवार संयुक्त रूप से रह रहा है।
इन सभी समस्याओं को देख कर किसानों ने किसान पंचायत का आयोजन किया है करैरा क्षेत्र के सभी किसान भाइयों से आग्रह है कि आप भाजपा कांग्रेस को छोड़कर किसानों की समस्या में साथ आएं और किसान पंचायत को सफल बनाएं,यह सत्य है कि बिना लड़े आज तक कोई नहीं जीता है। आज महाराष्ट्र का 30000 किसान 300 किलोमीटर पैदल चलकर रैली कर रहा है हम कल करैरा में रैली करेंगे। इस आंदोलन में
सीताराम गेड़ा बापू,सतीश फ़ौजी अमन लोधी आमोल,संतोष दददा मानसिंह फ़ौजी, भगवान सिंह यादव निचरोली,बंटी यादव,बीरेंद्र यादव कालीपहाड़ी,रनवीर सिंह खेराई,उदयभान सिंह चौहान बम्हारी,रामपाल पटेल चन्दवरा। आदि किसान तैयारी में जुटें हैं।
*न कांग्रेसाई न भाजपाई*
*किसान किसान भाई भाई*