कोलारस उपचुनाव – कमल दल में हार की समीक्षा में जुटे दिग्गज ,गिर सकती है कई नेताओं पर गाज*

1597

*हार की समीक्षा में जुटे दिग्गज,गिर सकती है कई नेताओं पर गाज*

शिवपुरी
कोलारस उपचुनाव के परिणाम की समीक्षा खुद मुख्यमंत्री और संगठन महामंत्री सुहास भगत करने वाले है भाजपा के स्थानीय नेताओं के समानांतर पार्टी ने अपने चैनल से एक रिपोर्ट तैयार की है जिसमे उन लोगों का एक्सरा किया जाएगा जिन्हें खुद आलाकमान ने जिताने की जिम्मेदारी सौंपी थी,बताया जाता है कि सीएम ने यहाँ के कुछ नेताओं को अलग से बुलाकर मतदान केंद्रों की जिम्मेदारी सौंपी थी ऐसे नेताओं की संख्या आधा दर्जन है इन्हें 20 से 25 मतदान केंद्र अलग अलग दिये गए थे इनका पूरा प्रबन्धन भी इन टिकट के तलबगारों को सौंप दिया गया था इनके अलावा पार्टी के जिम्मेदार पदाधिकारियो को भी सीधे मुख्यमंत्री ने जीत की जिम्मेदारी दी थी अब रिजल्ट की शीट सीएम ओर महामंत्री संगठन के पास है एक दो रोज में इन कमलचियों को राजधानी तलब किया जा रहा है।बताया जाता है कि कोलारस मण्डल के 127 पोलिंग का जिम्मा पोहरी विधायक प्रह्लाद भारती ऒर राजू बाथम के पास था,बदरवास के106 पोलिंग जिताने की जिम्मेदारी पोहरी के पूर्व विधायक नरेंद्र बिरथरे और रन्नौद के 78 पोलिंग पर कमल खिलाने का जिम्मा किसान मोर्चा के अध्यक्ष रणवीर रावत पर था। इन घोषित प्रभारियों के अलावा सीएम ने सुशील रघुवंशी ,रामस्वरूप रिझारी,वीरेंद्र रघुवंशी,विपिन खेमरिया,धनपाल यादव,कल्याण यादव लोकपाल लोधी,आदि को भी सीधी जिम्मेदारी दी थी।ये सभी नेता कुल मिलाकर पार्टी के मंसूबो पर खरे नही उतरे है बताया जाता है कि इन्ही नेताओ के अतिशय जीत के दावों ने पार्टी और सरकार की किरकिरी कराई है,क्योंकि पार्टी कोलारस को विनिग सीट ओर मुंगावली को कमजोर मानकर चल रहीं थी लेकिन यहां हुआ उल्टा।इस किरकरी के किरदारों पर क्या एक्शन लेते है शिवराज ये देखने योग्य होगा।